चुनाव हारने के बाद लालू की बेटी मीसा भारती ने अनुशंसित फंड को भी ले लिया वापस,राजनीतिक गलियारे में उठ रहे कई सवाल

पटना राजनीति
जनादेश न्यूज़ पटना
भारतीय राजनीति में अवसरवाद एक अनिवार्य अंग सा बन गया है. खासकर लालू परिवार की तो परिवार बाद तक ही राजनीतिक सिमट कर रह गई है जहां एक तरफ पूरा लालू कुनबा और लालू परिवार गरीब और शोषित दलितों और पीड़ितों की राजनीति करता है वहीं खुले आम तौर पर उनकी बेटी मीसा भारती अनुशंसित फंड को भी चुनाव हारने के बाद वापस ले लेती हैं. ताजा उदाहरण आरजेडी चीफ लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती से जुड़ा है. सांसद निधि योजना को लेकर पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ने वाली राजद प्रत्याशी मीसा भारती का अजीबोगरीब फैसला सामने आया है. मीसा भारती ने पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र के लिये विभिन्न योजनाओं के लिये आवंटित करीब 15 करोड़ रुपये की राशि आवंटन को रद्द कर दिया है.मीसा भारती ने यह फैसला चुनाव हारने के बाद किया है.
चुनाव हारीं तो रद्द कर दी अनुशंसा
गौरतलब है कि इस साल फरवरी तक उन्होंने अपने तीन वर्षों के राज्यसभा कार्यकाल में सांसद निधि का उपयोग नहीं किया था. तीन वर्षों में किसी योजना की अनुशंसा नहीं की थी. लेकिन लोकसभा चुनाव नजदीक आया तो एक महीने में ही अपने पाटलिपुत्र संसदीय क्षेत्र में 15 करोड़ की योजनाओं की अनुशंसा कर दी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *