जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता में कृषि टास्क फोर्स की बैठक

नालंदा
जनादेश न्यूज़ नालंदा
जिला पदाधिकारी योगेंद्र सिंह की अध्यक्षता में आज जिला कृषि टास्क फोर्स की बैठक आहूत की गई।
कृषि विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की उपलब्धि की प्रखंड वार विवरणी तैयार करने का निर्देश जिला कृषि पदाधिकारी को दिया गया।
किसानों द्वारा खेतों में फसल कटने के बाद शेष अवशेष को जला दिया जाता है, जो कि पर्यावरण के दृष्टिकोण से अत्यंत घातक साबित हो रहा है। राज्य सरकार भी इस मामले को लेकर काफी गंभीर है। जिला पदाधिकारी ने जिला कृषि पदाधिकारी को प्रखंड वार कृषि अवशेष जलाए जाने के संबंध में आंकड़ा उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। इस संबंध में किसानों को जागरूक करने के लिए व्यापक स्तर पर अभियान चलाने का निर्देश दिया गया।
जिला पदाधिकारी ने स्पष्ट रूप से कहा कि किसानों से संबंधित योजनाओं का क्रियान्वयन प्राथमिकता देते हुए सुनिश्चित किया जाए, इसमें किसी भी तरह की कोताही एवं अनियमितता बर्दाश्त नहीं की जाएगी।
जिला मत्स्य पदाधिकारी को बंदोबस्ती योग्य सभी जलकरों की अविलंब बंदोबस्ती सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया। मत्स्य विभाग द्वारा मत्स्य पालकों को प्रशिक्षण हेतु अन्य राज्यों का परिभ्रमण कराया जाता है। जिला पदाधिकारी ने प्रशिक्षण प्राप्त करने के उपरांत इन मत्स्य पालकों के व्यवसायिक स्थिति में आए बदलाव का अध्ययन सुनिश्चित करने का निर्देश जिला मत्स्य पदाधिकारी को दिया। मत्स्य पालकों के लिए क्रेडिट कार्ड योजना के क्रियान्वयन हेतु कार्रवाई सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया।
जिला पशुपालन पदाधिकारी को पशु गणना का कार्य अविलंब पूर्ण करने का निर्देश दिया गया। कुछ प्रखंडों में कार्य की प्रगति असंतोषजनक पाई गई। जिला पदाधिकारी ने संबंधित प्रखंड के किसान सलाहकार के माध्यम से इसे अविलंब पूर्ण कराने का निर्देश दिया।
सहकारिता विभाग द्वारा फसल सहायता योजना के तहत जिला के 97 पंचायतों में किसानों को लाभ दिया जा रहा है। इन पंचायतों का चयन सांख्यिकी विभाग के क्रॉप कटिंग के आंकड़े के आधार पर किया गया है।
पंचायतों को हस्तगत कराए गए सभी राजकीय नलकूपों में विधिवत विद्युत कनेक्शन सुनिश्चित करने का निर्देश कार्यपालक अभियंता लघु सिंचाई को दिया गया। संचालित नलकूप के बिजली बिल के भुगतान हेतु भी कार्रवाई सुनिश्चित करने को कहा गया।
कार्यपालक अभियंता विद्युत आपूर्ति द्वारा बताया गया कि एग्रीकल्चर फीडर का कार्य इस माह के अंत तक पूरा कर लिया जाएगा। अब तक जिला के 1694 किसानों को एग्रीकल्चर फीडर के माध्यम से कृषि कार्य के लिए नया कनेक्शन दिया गया है। जिला पदाधिकारी ने सभी इच्छुक किसानों को कनेक्शन देने के लिए विशेष रूप से शिविर लगाकर कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

बैठक में जिला कृषि पदाधिकारी, जिला सहकारिता पदाधिकारी, जिला मत्स्य पदाधिकारी, जिला पशुपालन पदाधिकारी, कार्यपालक अभियंता लघु सिंचाई, कार्यपालक अभियंता विद्युत आपूर्ति सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *