150 रुपए में कैरेक्टर बेचने वाले सब इंस्पेक्टर को मुंगेर डीआईजी मनु महाराज के निर्देश पर भेजा गया जेल

अपराध बिहार
जनादेश न्यूज़ बिहार
मुंगेर : अपनी कारगुजारियों को लेकर हमेशा सुर्ख़ियों में छाये रहने वाली बिहार पुलिस से जुड़ा हुआ एक ताजा मामला सामने आया है मुंगेर जिले से जहां महज 150 रुपये में एक दारोगा ने अपनी ईमान बेच दी. इनदिनों एक वीडियो सामने आया है जिसे देख कर बिहार पुलिस की ईमानदारी पर सवाल खड़े हो रहे हैं. मामला सामने आने के बाद डीआईजी मनु महाराज जांच के आदेश जारी किये हैं.पूरी घटना मुंगेर जिले के कोतवाली थाना की है. जहां एक दारोगा कैमरे में महज 150 रुपए लेते पकड़ा गया है. घूसखोरी का ये पूरा खेल थाना परिसर में हुआ जहां आरोपी दारोगा ने लड़की को बुलाकर कैरेक्टर सर्टिफिकेट वेरिफिकेशन के नाम पर अवैध राशि की वसूली ली. इस पूरी घटना का वीडियो सामने आया तो पुलिस के वरीय अधिकारी भी चकित रह गए. बताया जा रहा है कि 31 जुलाई को शहर के आजाद चौक की रहने वाली एक लड़की के मोबाइल पर फोन आया. फोन करने वाले ने कहा मैं कोतवाली थाना से बोल रहा हूं. कैरेक्टर सर्टिफिकेट वेरिफिकेशन के लिए एसपी ऑफिस से आपका कागज हमारे पास आया है. आप थाना में आ जाइये.
लड़की थाने में दारोगा साहब से मिली और कहा कि, सर मेरा काम कर दीजिए. तब उस पुलिस वाले ने लड़की से 300 रूपये की डिमांड की. दारोगा की डिमांड पर लड़की ने कहा कि पैसा किस बात का दें तो पुलिस वाले ने कहा बिना खर्चा-पानी का काम नहीं होगा. पेपर वापस एसपी कार्यालय भेज देंगे. तब लड़की ने कहा कि सर मुझे इसकी बहुत जरूरत है. मैं बहुत गरीब हूँ. फॉर्म अप्लाई करने के लिए कैरेक्टर सर्टिफिकेट बनवा रही हूँ. तब दारोगा ने कहा कि 200 रूपया दो. ना-हां में बात 150 रूपए में तय हुई और लड़की ने पैसा दे दिया.
पैसे मिलने के बाद दारोगा जी ने कहा कि एसपी कार्यालय के काउंटर पर से प्रमाण पत्र एक दो दिनों में मिल जायेगा. लड़की काफी हिम्मतवाली थी लिहाजा उसने पैसा देते हुए इस पूरी घटना को मोबाइल कैमरे में कैद कर लिया. इस पूरी घटना का वीडियो सामने आया तो पुलिस के वरीय अधिकारी भी चकित रह गए. डीआईजी मनु महाराज ने मामले में संज्ञान लेते हुए एसपी और सम्बंधित अधिकारियों को जांच का आदेश देते हुए कार्रवाई करने की बात कही वहीं मुंगेर एसपी ने मामले से संबंधित दरोगा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *